PM uday (Ujala) yojana 2020 | Features,objectives In Hindi

All important Point related to Uday scheme 

PM uday yojana एक वित्तीय पुनर्गठन और दक्षता बढ़ाने वाला कार्यक्रम है, जिसका उद्देश्य राज्य के स्वामित्व वाली बिजली वितरण कंपनियों (DISCOM) के ऋण के बोझ को कम करना है। DISCOMs – उनमें से ज्यादातर राज्य सरकारों के स्वामित्व में हैं, लगभग 3.8 लाख करोड़ रुपये का संचित घाटा और लगभग 4.3 लाख करोड़ रुपये का बकाया ऋण (मार्च, 2015 के अनुसार)

हालांकि UDAY का मुख्य घटक ऋण प्रबंधन है, परिचालन क्षमता बढ़ाने जैसे अन्य उपायों को भी DISCOMs के ऋण परिदृश्य को स्थायी रूप से व्यवस्थित करने का प्रस्ताव है।

DISCOMs की दक्षता में सुधार के लिए UDAY के हिस्से के रूप में चार पहलें तैयार की गई हैं:

(i) DISCOMs की परिचालन क्षमता में सुधार;
(ii) बिजली की लागत में कमी;
(iii) DISCOMs की ब्याज लागत में कमी;
(iv) राज्य वित्त के साथ संरेखण के माध्यम से DISCOMs पर वित्तीय अनुशासन लागू करना।

परिचालन दक्षता में ट्रांसमिशन और वितरण (या चोरी) के दौरान खो जाने वाली बिजली को कम करने के लिए अनिवार्य स्मार्ट मीटरिंग, ट्रांसफार्मर का उन्नयन और मीटर शामिल हैं।

Ujwal DISCOM Assurance Yojana क्या है?

उज्जवल डिस्कॉम एश्योरेंस योजना भारत की बिजली वितरण कंपनियों के लिए वित्तीय बदलाव और पुनरुद्धार पैकेज है, जो भारत सरकार द्वारा वित्तीय गड़बड़ी का स्थायी समाधान खोजने के इरादे से शुरू की गई है, जिसमें बिजली वितरण है और यह एक वित्तीय पुनर्गठन और दक्षता बढ़ाने वाला कार्यक्रम है

Uday scheme के उद्देश्य

ऊर्जा मंत्रालय, भारत सरकार ने उज्जवल डिस्कॉम एश्योरेंस योजना (UDAY) शुरू की, जिसे 5 नवंबर, 2015 को केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा अनुमोदित किया गया था। योजना के मुख्य उद्देश्य कुछ निम्न प्रकार से हैं:

  • वित्तीय बदलाव
  • परिचालन में सुधार
  • बिजली उत्पादन की लागत में कमी
  • नवीकरणीय ऊर्जा का विकास
  • ऊर्जा दक्षता और संरक्षण

Uday scheme में सहभागी राज्यों को लाभ

केंद्रीय सहायता के माध्यम से बिजली की लागत में कमी

  • घरेलू कोयले की आपूर्ति में वृद्धि
  • अधिसूचित कीमतों पर कोयला लिंकेज का आवंटन
  • कोयला मूल्य युक्तिकरण
  • कोयला लिंकेज युक्तिकरण और कोयला स्वैप की अनुमति
  • धुले और कुचले हुए कोयले की आपूर्ति
  • अधिसूचित कीमतों पर अतिरिक्त कोयला
  • अंतरराज्यीय ट्रांसमिशन लाइनों की तेजी से पूरा हो रहा है
  • पारदर्शी प्रतिस्पर्धी बोली के माध्यम से बिजली खरीद

Uday scheme का प्रभाव

  • बिजली की बढ़ती मांग
  • पौधों के उत्पादन की पीएलएफ में सुधार
  • स्ट्रेस्ड एसेट्स में कमी
  • सस्ते फंड की उपलब्धता
  • पूंजी निवेश बढ़ा
  • अक्षय ऊर्जा क्षेत्र का विकास

अंतत: सस्ती कीमत पर 24*7 बिजली की उपलब्धता

Source : www.uday.gov.in

Leave a Comment