PM Garib Kalyan Ann Yojana | बिना Ration Card के भी मिलेगा राशन

दूसरों के साथ शेयर करें

मोदी सरकार ने PM Garib Kalyan Ann Yojana 2020-21 के तहत Free भोजन वितरित करने के लिए Ration Card और ID Proof की आवश्यकता को दूर करने की घोषणा की है, यहाँ आप प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना मैं हुए Revisions का पूरा विवरण देख सकते हैं


भारत सरकार इस Corona pandemic के चलते PM गरीब कल्याण योजना के नए दिशानिर्देश जारी करने जा रही है योजना के नए रूप में मोदी सरकार Pradhan Mantri Garib Kalyan Ann Yojana 2020 खाने की सामग्री प्राप्त करने के लिए Ration Card या ID की आवश्यकता को दूर कर सकती है

सरकार की इस नई मुफ्त भोजन वितरण योजना (free food distribution scheme) कला प्राप्त करने के लिए अब किसी भी प्रकार की आईडी कार्ड की आवश्यकता नहीं होगी सरकार की यह नीति योजना के क्षेत्र को बढ़ाने के लिए कार्य करेगी केंद्रीय सरकार अप्रैल से जून तक एक लाख 20 करोड़ मीट्रिक टन खाद्यान्न जारी करने की प्रक्रिया में तत्पर है

pm garib kalyan anna yojana

PM Garib Kalyan Ann Yojana 2020

जैसा कि आप सभी जानते ही हैं lockdown शुरू होने के बाद से ही प्रधानमंत्री मोदी जी ने PM Garib Kalyan Yojana पैकेज की घोषणा की थी जोकि कोरोनावायरस से लड़ने के लिए सरकार का एक राहत पैकेज था इस योजना के तहत सरकार 80 करोड़ लोगों को प्रतिमाह 5 किलोग्राम की दर से से मुफ्त भोजन उपलब्ध कराएगी

इस योजना के तहत अब तक देश के लगभग दो करोड़ लाभार्थियों ने पहले ही इस नि: शुल्क राशन (Free Food) का लाभ उठाया है जैसा कि आप सभी जानते ही हैं की lockdown को 14 April 2020 से 3 मई तक बड़ा दिया है इसलिए कोरोनावायरस (COVID-19) से लड़ने के लिए यह PM Garib Kalyan Ann Yojana अत्यंत ही महत्वपूर्ण

MORE  प्रधान मंत्री किसान मानधन योजना Zero Premium 2019

नि: शुल्क भोजन वितरण योजना (Free Food Distribution Scheme) प्रवासी मजदूरों, दैनिक ग्रामीणों और शहरी गरीबों को पर्याप्त खाद्य आपूर्ति सुनिश्चित करेगी जिनके पास राशन कार्ड उपलब्ध नहीं है इसलिए इस योजना से भुखमरी जैसी समस्या से निपटने में सहायता होगी।

PM Garib Kalyan Ann Yojana कोरोना राहत पैकेज

empowered groups और सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों की सिफारिशों के अनुसार, राशन कार्ड और अन्य आईडी आवश्यकताओं को PM Garib kalyan Ann Yojana से हटाया जाना चाहिए। यह प्रधान मंत्री गरीब कल्याण योजना 2020 के तहत भोजन की पहुंच सभी गरीब लोगों तक बढ़ाएगा जो कि मोदी सरकार की इस योजना का एक प्रमुख लक्ष्य है।

PM मोदी जी ने आज के (14 April) अपने भाषण मैं कहा है की जल्दी ही कोरोना वायरस के चलते 20 अप्रैल तक जल्द ही नयी गाइडलाइन जारी की जाएँगी जिसमें कई बदलाव को जारी क्या जायेगा और lockdown के नियमों मैं भी काफी बदलाव देखने को मिल सकता है

PM Garib Kalyan Ann Yojana बिना Ration Card के भी मिलेगा भोजन

1.70 लाख करोड़ रुपये को पीएम गरीब कल्याण योजना पैकेज में लोगों को मुफ्त भोजन उपलब्ध कराना एक तत्काल आवश्यकता के रूप में मांगा गया था। पर लॉकडाउन को मोदी सरकार ने 3 मई तक बड़ा दिया है इसलिए COVID-19 दौरान सामान्य स्थिति में शुरू होने तक मुफ्त भोजन वितरित करना बहुत ही आवश्यक है

वर्तमान में प्रधान मंत्री कार्यालय मुफ्त भोजन वितरण के दौरान राशन कार्ड और आईडी प्रूफ की आवश्यकता को हटाने की इस सिफारिश की जांच कर रहा है। यह आवश्यक है क्योंकि असंगठित क्षेत्र के कई श्रमिक अभी भी सार्वजनिक वितरण प्रणाली (PDS) नेटवर्क के भीतर नहीं हैं।

इसके अलावा, यह संभव हो सकता है कि अन्य राज्यों में दैनिक वेतन भोगी श्रमिकों ने अपने परिवारों के उपयोग के लिए अपने घर पर अपना राशन कार्ड वापस छोड़ दिया हो। वे जीवित रहने के लिए दैनिक कमाई पर भरोसा करते हैं और अब काफी असहाय हैं। इसलिए ऐसे व्यक्तियों के लिए भी यह योजना महत्वपूर्ण है

यह सुझाव है कि केंद्र सरकार सभी राज्य सरकार से ID कार्ड / राशन कार्ड के बिना लोगों को मुफ्त खाद्य सामग्री और अनाज वितरित करने के लिए कहे। इस कदम को हमें उस अभूतपूर्व स्थिति को ध्यान में रखते हुए जल्द से जल्द लागू और कार्यान्वित करना चाहिए।

पीएम गरीब कल्याण योजना की अब तक प्रगति (Scheme Progress)

यह सुनिश्चित करने के लिए कि समाज के कमजोर वर्गों को आधार सुविधाएं प्राप्त होती रहें और COVID 19 के कारण लॉक डाउन अवधि के दौरान प्रभावित न हों, 26 मार्च 2020 को केंद्रीय वित्त मंत्री Smt Nirmala Sitharaman द्वारा 1 लाख 70 हजार करोड़ रुपए की घोषणा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKP) के तहत की गई।

MORE  PM Garib Kalyan Yojana 2.0 | PMGKY Online Apply

13 अप्रैल, 2020 तक, 32.32 करोड़ लाभार्थियों को Direct Benefit Transfer (DBT) के माध्यम से सीधे पैकेज के तहत 29,352 करोड़ रुपये की नकद सहायता दी गई है।

pm garib kalyan yojana progress
pm garib kalyan ann yojana progress

Pradhan Mantri Garib Kalyan Package Progress so far

  • प्रधान मंत्री ग़रीब कल्याण पैकेज के तहत 32 करोड़ से अधिक गरीबों को 29,352 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता प्राप्त हुई
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत 5.29 करोड़ लाभार्थियों को मुफ्त खाद्यान्न वितरित किया गया
  • अब तक प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत 97.8 लाख मुफ्त उज्ज्वला सिलेंडर दिए गए
  • ईपीएफओ के 2.1 लाख सदस्यों ने ईपीएफ खाते से गैर-वापसी योग्य अग्रिम की ऑनलाइन निकासी का लाभ लिया, जिसकी राशि 510 करोड़ रुपये है
  • लगभग 2.82 करोड़ वृद्धों, विधवाओं और विकलांग व्यक्तियों को 1400 करोड़ रु डिस्ट्रीब्यूट किए गए
  • पीएम किसान योजना की नई किस्त 7.47 करोड़ किसानों के खाते में Rs 14,946 crore डायरेक्ट ट्रांसफर किए गए
  • 19.86 crore जनधन महिला खाताधारकों के खाते में 9930 करोड़ रुपए भेजे गए
  • 2.17 करोड़ भवन एवं निर्माण श्रमिकों को 3071 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता प्राप्त हुई।

PMGKY Total Direct Benefit Transfer Till 13/04/2020

10 अप्रैल 2020 तक, डीबीटी मोड के माध्यम से जरूरतमंदों को पैसे का वितरण नीचे दिए गए ग्राफ के अनुसार किया गया है इस List के तहत आप डीवीटी ट्रांसफर की सारी जानकारी देख सकते हैं:

Scheme Number of Beneficiaries Amount
Support to PMJDY women account holders19.86 Cr(97%)9930 Cr
Support to NSAP (Aged widows, Divyang, Senior citizen)2.82 Cr (100%)1405 Cr
Front-loaded payments to farmers under PM-KISAN7.47 Cr (out of 8 Cr)14,946 Cr
Support to Building & Other Construction workers2.17 Cr3071 Cr
TOTAL32.32 Cr29,352 Cr

कुछ राज्यों ने राशन कार्ड धारकों के खातों में सीधे धन हस्तांतरण की घोषणा की है। International Food Policy Research Institute संस्थान द्वारा हाल ही में किए गए एक अध्ययन में India’s food safety net कोविद -19 का जवाब कैसे दिया जाता है, इस मुद्दे पर भी बताया गया है।

अध्ययन में कहा गया है कि शहरी क्षेत्रों में पीडीएस कवरेज लगभग 50% कम है, जिससे कई शहरी गरीब बाहर निकल रहे हैं। यह कम से कम अभी के लिए “पात्र परिवारों की सूची का विस्तार” करने की आवश्यकता का सुझाव देता है।

Note- हालांकि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत आने वाले समय में काफी सारे बदलाव देखे जा सकते हैं सरकार इस योजना की राहत पैकेज की राशि को भी बढ़ा सकती है और PM Garib Kalyan Yojana के तहत आने वाली अन्य योजना जैसे कि PM Garib Kalyan Ann Yojana के नियमों में भी बदलाव किए जा सकते हैं

MORE  प्रधान मंत्री JI-VAN योजना लाभ 2019

जैसे ही कोई ऑफिशियल UPDATE सरकार द्वारा जारी किया जाता है तो हमारे द्वारा आप सभी को सूचित कर दिया जाएगा इसलिए आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पोर्टल को सब्सक्राइब करके जरूर रखें इसके लिए आप वेबसाइट पर दिए गए बैल आइकन को क्लिक करके नोटिफिक ALLOW कर सकते हैं या फिर नीचे दिए गए ईमेल बॉक्स में अपना मेल आईडी भर कर योजनाओं की अपडेट अपने Mail Id पर प्राप्त कर सकते हैं

PMGKAY FAQ

PM Garib Kalyan Ann Yojana क्या है?

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना एक निशुल्क राशन वितरण (free food distribution scheme) योजना है जिसे PM Garib kalyan Yojana के तहत जारी किया गया है

PM Garib Kalyan Ann Yojana के लिए कौन पात्र है?

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत पूरे भारत में जरूरतमंद गरीबों को मुफ्त में भोजन और सूखा राशन प्रदान किया जाएगा

PM गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत कितना राशन निशुल्क मिलता है?

Pradhan Mantri Garib Kalyan Ann Yojana के तहत हर महीने 5 किलोग्राम dried राशन बिल्कुल निशुल्क प्रदान किया जाएगा

PM Garib Kalyan Ann Yojana के लिए क्या राशन कार्ड होना आवश्यक है?

फिलहाल के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ केवल राशन कार्ड धारकों को ही दिया जा रहा है परंतु योजना की गाइड लाइन में जल्द ही परिवर्तन किया जाएगा और फिर इस योजना का लाभ सभी गरीब परिवार उठा पाएंगे

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना कब तक जारी रहेगी?

PM Garib Kalyan Ann Yojana फिलहाल कोरोनावायरस की महामारी के चलते 3 महीने के लिए जारी की गई है लेकिन देश के हालातों को देखते हुए सरकार इस योजना की अंतिम तिथि को और भी बढ़ा सकती है

PM Garib Kalyan Ann Yojana के लिए आवेदन कैसे करें?

फिलहाल प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ लेने के लिए आपको कहीं पर भी Online या Offline आवेदन करने की आवश्यकता नहीं इस योजना को ग्राउंड लेवल पर जारी किया गया है इसलिए सभी गरीबों को इस योजना का लाभ मिलेगा

पूरे देश के लिए दलहन की कितनी क्वांटिटी April 2020 तक जारी की गई है?

अभी तक 3985 मीट्रिक टन दलहन को विभिन्न राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों में भी भेजा गया है।

Source : PIB And Other

Leave a Comment