Digipay new version 2019 – DIGIPAY 4.1

हाल ही मैं CSC SPV ने अपने डिजिटल सेवा पोर्टल में DIGIPAY की कुछ सर्विसों में बदलाव कर दिया है और और कुछ नयी सेवाओं को जोड़ दिया है

CSC दोवारा DIGIPAY का 4.1 वर्जन अपडेट कर दिया गया है DigiPay मैं अब सभी को मनी ट्रांसफर की सेवा भी मुहैया कराई गई है

अगर आप DIGIPAY की इस नयी सेवा का लाभ उठाना कहते हैं तो इसके लिए आपको अपने DIGIPAY सॉफ्टवेयर को अपडेट करना होगा या अपने पुराने सॉफ्टवेयर को पूरी तरह से Unistall करके नया सॉफ्टवेयर फिर से इनस्टॉल करना होगा DIGIPAY 4.1 सॉफ्टवेयर डाउनलोड करने का लिंक नीचे दिया गया है

DIGIPAY 4.1 नए संस्करण में नया क्या है

DIGIPAY 4.1 संस्करण में कुछ और नयीं सेवाएं जोड़ी गयीं हैं और साथ ही सॉफ्टवेयर की परफॉरमेंस में भी इजाफा किआ गया है और DIGIPAY में आ रहीं कुछ समस्यायों को भी ठीक किया गया है

DIGIPAY 4.1 Services

  • मनी ट्रांसफर
  • नकद निकासी
  • शेषराशी पूछताछ
  • बिल भुगतान etc

What Is DIGIPAY 

CSC ई-गवर्नेंस सर्विसेज इंडिया लिमिटेड ने उन स्थानों पर आधार सक्षम भुगतान प्रणाली (AePS) शुरू करने के लिए The National Payments Corporation of India (NPCI) के साथ सहयोग किया है, जहाँ CSC व्यवसाय संवाददाता के रूप में कार्य कर रहा है। इस भुगतान प्रणाली को DIGIPAY कहा जाता है।

यह प्रणाली UIDAI की आधार प्रमाणीकरण सेवा का उपयोग करते हुए किसी भी केंद्रीय या राज्य सरकार की संस्था / संस्था की नरेगा, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, विकलांग, वृद्धावस्था पेंशन आदि जैसे सरकारी अधिकारों के संवितरण की सुविधा प्रदान करती है।

यह प्रणाली किसी व्यक्ति की जनसांख्यिकीय और बायोमेट्रिक / आईरिस सूचना पर आधारित है, जो किसी भी धोखाधड़ी या गैर-वास्तविक गतिविधि के खतरे को कम करती है। आधार किसी भी समय, कहीं भी, किसी भी तरह से नागरिक / ग्राहक के लिए प्रमाणीकरण की सुविधा प्रदान करता है। यह सेवा वर्तमान में विंडोज़ और एंड्रॉइड आधारित लैपटॉप / डेस्कटॉप / मोबाइल फोन पर काम कर रही है।

भारत के राष्ट्रीय भुगतान निगम (NPCI) और इंडसइंड बैंक के सहयोग से CSC-SPV ने देश भर के सभी CSC स्थानों पर आधार सक्षम भुगतान प्रणाली (AePS) शुरू की है। यह प्रणाली किसी व्यक्ति के आधार प्रमाणीकरण पर आधारित है, जो किसी भी धोखाधड़ी और दुर्भावनापूर्ण गतिविधि के खतरे को समाप्त करता है। आधार अपने लाभार्थी को ‘कभी भी, कहीं भी’ प्रमाणीकरण की सुविधा देगा।

इसका उद्देश्य आधार आधारित भुगतान लेनदेन के लिए बैंकों के बीच अंतर-संचालन को प्राप्त करना है। DIGIPAY एप्लिकेशन CSCs को देश के दूर दराज और बैंकिंग से वंचित क्षेत्रों में वित्तीय सेवाओं की आवश्यकता को पूरा करने में सक्षम करेगा। वीएलई भी अपने केंद्र में फुटफॉल का लाभ उठा सकते हैं और सरकार के दृष्टिकोण के अनुसार कैशलेस सोसाइटी बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। DigiPay आधार आधारित प्रमाणीकरण के माध्यम से लेन-देन का एक सरल, सुरक्षित और सहज तरीका है।

Source : digipay.csccloud.in

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *