close button





Atal Jyoti Yojana Online Registration 2022 अटल ज्योति योजना आवेदन

eesl atal jyoti yojana Online | अटल ज्योति योजना आवेदन फॉर्म | atal jyoti yojana online registration | Govt free Solar LED Street Lights yojana 2022 | अटल सौर्य ऊर्जा योजना | AJAY Online

यहाँ पर हम सरकार की इस अजय यानि अटल ज्योति योजना के बारे मैं जानेंगे की या योजना क्या है । मिनिस्ट्री ओफ पावर एवं MNRE द्वारा घोषित, अजय के उद्देश्य, Phases I & II , फनडिंग, रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया, वेबसाइट, l सौर ऊर्जा लाईट्स के लाभ आदि इसलिए पूरा लेख जरूर चेक करें।

बिजली की समस्या के निवारण के लिए Atal Jyoti Yojana की घोषणा नवंबर 2014 में श्री प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हुई थी। योजना को सफल बनाने की जिम्मेदारी केन्द्र सरकार की नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मिनिस्ट्री की है जो पूरी निष्ठा से इस कार्य में संलग्नित रही है। 

केन्द्र सरकार की Ministry of New and Renewable Energy (MNRE) पूरे देश में नवीन तथा नवीकरणीय ऊर्जा का संचार तथा विस्तार करती है। इस मंत्रालय ने देश में सौर स्ट्रीट लाइट की स्थापना के माध्यम से अधेंरे क्षेत्रों को बिजली देने के लिए अटल ज्योति योजना आरम्भ की। 

अटल ज्योति योजना – AJAY 2022

हमारे देश में बिजली की समस्या आजादी के 7 दशक बाद भी चल रही थी। इसके तुरंत निवारण के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की केंद्र सरकार ने राज्यों, जिलों और कस्बों के कम बिजली वाले सार्वजनिक स्थानों पर सौर ऊर्जा लगवाने की अटल ज्योति योजना बनाई। 

अटल ज्योति योजना सरकार की आफ-ग्रिड और विकेन्द्रीकृत सौर अनुप्रयोग योजना (Grid and Decentralized Solar Application Scheme) के  अन्तर्गत एक उप-योजना है। इस योजना का दूसरा नाम अजय है। अजय योजना Energy Efficiency Services Limited जो Ministry of Power,New and Renewable Energy द्वारा चलाई जा ही है। 

EESL चार पब्लिक सेक्टर power companies का joint venture है।

ये कम्पनीज़ हैं – एनटीपीसी Ltd., PFC Ltd., REC Ltd., Power Grid corporation 

Atal Jyoti Yojana Highlights:

योजना का नामAtal Jyoti Yojana 2022
किसने शुरू कीपावर मिनिस्ट्री तथा मिनिस्ट्री ओफ न्यू एवं रिन्यूएबल एनर्जी ने
द्वारा प्रायोजित प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा
Launch dateपहला फेज 2018 में दूसरा फेज 2019 में
लाभार्थी देश के तमाम राज्यों, जिलों और गावों के नागरिक।
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन 
वेबसाइट https://eeslindia.org

अटल ज्योति योजना के उद्देश्य

अजय के तहत ग्रामीण, अर्ध- शहरी और शहरी क्षेत्रों में जहाँ बिजली उपलब्ध नहीं है या बिजली की पर्याप्त आपूर्ति नही है वहां सौर एल ई डी लाइट्स लगाई जाती हैं। इस योजना का मुख्य उद्देश्य बिजली की समस्या से उभरने के लिए राज्यों, जिलों एवं गावों में सौर उर्जा स्ट्रीट लाइट्स सार्वजनिक जगहों पर लगाकर नागरिकों की मदद करना है।

Atal Jyoti Yojana के दो चरण हैं: चरण एक एवं चरण दो। 

  • चरण एक को दिसंबर 2018 में लागू किया गया। 
  • चरण दो को 2019-20 में लागू किया गया।

Mukhyamantri Saur Krushi Pump Yojana

PHASE 1 :  लाभ पाने वाले राज्य – 

उत्तर प्रदेश, आसाम, बिहार, झारखंड, और ओडिशा के 50% से कम ग्रिड कनेक्टिविटी और ग्रिड पावर कवरेज वाले ग्रामीण, अर्ध – शहरी और शहरी क्षेत्रों को 7W वाली  LED lights  से रौशन किया गया। 

PHASE 2 : लाभ पाने वाले राज्य – 

फेज 2 में 3,04,500 सोलर स्ट्रीट लाइटस (SSLs)  आफ 12 W capacity लगाने का प्रावधान 

उत्तर प्रदेश, आसाम, बिहार झारखंड और ओडिशा के बाकी क्षेत्रों के अलावा अनेक और राज्य शामिल किए गए: 

  • मध्य प्रदेश, राजस्थान और गुजरात 
  • जम्मू और काश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के पहाड़ी राज्य 
  • सिक्किम सहित उत्तर- पूर्वी राज्य 
  • अंडमान निकोबार और लक्षद्वीप समूह
  • अन्य राज्यों के 48 आकांक्षी जिलों के संसदीय निर्वाचन क्षेत्र 

EESL ने  फेज I & II  में 1.97 लाख से अधिक Solar Led lights  सार्वजनिक स्थानों में स्थापित की हैं। 

Atal Jyoti Yojana Phase 2 वर्तमान स्थिति :

कोरोना महामारी के कारण Ministry of New & Renewable Energy विभाग ने PHASE II का काम दो वर्ष 2020-2022 तक स्थगित कर दिया था। इस घोषणा के समय तक MNRE डेटा के तहत अजय फेज 2 के अन्तर्गत 1,35,677 सोलर लाइटस स्थापित कर दी गई थीं। 

अटल ज्योति योजना से सौर ऊर्जा के उपयोग के लाभ

  • सौर ऊर्जा प्रदूषण मुक्त होती है। 
  • यह किसी अन्य ऊर्जा के स्त्रोत पर निर्भर नहीं करती। 
  • इसका रखरखाव ना के बराबर है। 
  • अन्य ऊर्जा स्त्रोत की तुलना में सुरक्षित है। 
  • यह नवीकरणीय ऊर्जा है। यह हमेशा उपलब्ध रहती है। 
  • बिजली का बिल नहीं आता। 

अटल ज्योति योजना की फन्डिगं : 

फेज 2 का टोटल बजट 761 करोड़ का है। योजना के अनुसार 75%  धनराशि केंद्र सरकार वहन करेगी  MNRE बजट से और 25% राशि सांसद निधि (MPLAD) से लगाने का प्रावधान है। चिन्हित राज्यों में MNRE मानदंडों के अनुसार 12W की LED क्षमता वाली प्रति लाइट की लागत 25,000 रूपये पडती है। 

Atal Jyoti Yojana Registration Online (Vendors)

ईईएसएल सरकारी पावर कम्पनीज के जोइन्ट वैन्चर से सुपर एनर्जी सर्विस कम्पनी बनाई गई है जो उपभोक्ताओं, उद्योगों और सरकारों के लिए ऊर्जा दक्ष तकनीक द्वारा उनकी ऊर्जा जरूरतों का प्रभावपूर्ण प्रबंध करती है। 

Energy Efficiency Services Limited अपनी वेबसाइट पर चैनल पार्टनर रजिस्ट्रेशन करती है। अप्रैल 2022- मई 2022 के लिए रजिस्ट्रेशन ओपन है। उनकी वेबसाइट https://ajay.eeslindia.org  

अटल ज्योति योजना से गावों, कस्बों एवं शहरों को रौशन किया जा रहा है। बिजली की समस्या से परेशान लोग सरकार से आशा करते हैं कि वह तुरंत कोइ समाधान करेगी और उनको राहत देगी। सार्वजनिक स्थानों में बिजली की कमी को पूरा करने के लिए सरकार की New and Renewable Energy Dept. ने सौर ऊर्जा वाली एल ई डी लाइट्स का उपाय सोचा। 

How to register a Complaint at Atal Jyoti Yojana:

जिन राज्यों में सौर्य एल ई डी लाइट्स लगाई गई हैं वहां के लोगों की लाइट्स को लेकर समस्याएं हो सकती हैं। अतः उनको अपनी प्रतिक्रिया या शिकायत दर्ज कराने की सहुलियत दी गई है। 

Atal Jyoti Yojana Form
  • वेबसाइट में अटल ज्योति डैशबोर्ड पर क्लिक करें। 
  • सबसे ऊपर दो बौक्स दिखेंगे। Official login  और  Register your complaints
  • रजिस्टर योर कम्लेन्ट पर क्लिक करके अपनी समस्या का ब्यौरा दें। 

Follow Us On Social Media 🙏 🔔

Google News Follow
Twitter Follow
Facebook Follow
Koo AppFollow
InstagramFollow
TelegramFollow

Leave a Comment