प्रधानमंत्री जी ने शुरू किया Fit India Movement 2019

दूसरों के साथ शेयर करें

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर आज नई दिल्ली में एक समारोह में फिट इंडिया मूवमेंट का शुभारंभ किया। प्रधानमंत्री ने देश के लोगों से फिटनेस को अपनी जीवन शैली बनाने का आग्रह किया।

मेजर ध्यानचंद की जयंती पर लोगों के आंदोलन का शुभारंभ करते हुए, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के खेल आइकन मेजर ध्यानचंद को श्रद्धांजलि अर्पित की, जिन्होंने अपने खेल और तकनीकों से दुनिया को मंत्रमुग्ध कर दिया। उन्होंने देश के उन युवा खिलाड़ियों को भी बधाई दी, जो अपने प्रयासों से विश्व मंच पर तिरंगा लहरा रहे हैं। “उनके पदक न केवल उनकी कड़ी मेहनत का नतीजा है, बल्कि एक नए भारत के प्रति एक नए उत्साह और नए आत्मविश्वास का प्रतिबिंब है”

प्रधानमंत्री ने कहा कि ‘फिट इंडिया मूवमेंट’ एक राष्ट्रीय लक्ष्य और उसकी आकांक्षा बन जाना चाहिए। राष्ट्र को प्रेरित करने के प्रयास में, प्रधान मंत्री ने कहा कि फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत सरकार द्वारा की जा सकती है, लेकिन यह लोग हैं, जिन्हें इसका नेतृत्व करना है और इसे सफल बनाना है।

Fit India Movement 2019

फिटनेस हमेशा हमारी संस्कृति का एक अभिन्न हिस्सा रहा है, लेकिन अब फिटनेस मुद्दों के प्रति उदासीनता है। कुछ दशक पहले, एक सामान्य व्यक्ति एक दिन में लगभग 8 किमी से 10 किमी तक पैदल चलता था, साइकिल चलाता था या दौड़ता था। लेकिन आज की पीढ़ी वीडियो गेमिंग और अन्य खेलों की ओर जा रही है जिसमें शारीरिक गतिविधि शामिल नहीं है।

प्रौद्योगिकी के उपयोग ने शारीरिक गतिविधि को कम कर दिया है। इसलिए शारीरिक कार्य करने की संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए, केंद्रीय सरकार यह Fit India Movement शुरू किया है। भारतीय सरकार इस आंदोलन को हमारे साथी भारतीयों के सहयोग से नई ऊंचाइयों तक ले जाएगी।

MORE  खादी ग्रामोद्योग विकास योजना, रोजगार युक्त गांव Scheme 2019

पीएम मोदी ने कहा कि उन्हें बहुत खुशी है कि यह आंदोलन हमारे हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद की जयंती पर शुरू किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि किसी भी पेशे के लोग मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ होने पर अपने पेशे में खुद को कुशल बना सकते हैं। यदि शरीर फिट है, तो आप मानसिक रूप से फिट होंगे। खेलों का फिटनेस से सीधा संबंध है लेकिन ‘फिट इंडिया मूवमेंट’ का लक्ष्य फिटनेस से परे जाना है। फिटनेस केवल एक शब्द नहीं है, बल्कि स्वस्थ और समृद्ध जीवन के लिए एक आवश्यक स्तंभ है।

Leave a Comment